शन‌ि जयंती पर बना महासंयोग, इन 10 उपायों से शन‌ि होंगे खुश

शास्‍त्रों के अनुसार शन‌ि महाराज का जन्म जयेष्ठ महीने की कृष्‍ण पक्ष की अमावस्या त‌िथ‌ि को हुआ है। ज्येष्ठ मास की अमावस्या त‌िथ‌ि क‌िसी भी द‌िन हो सकती है इसल‌िए जब शन‌िवार के द‌िन यह अमावस्या आती है तो इसका महत्व बढ़ जाता है। इस वर्ष शन‌िवार 4 जून के द‌‌िन शन‌ि जयंती होने से इसका महत्व बढ़ गया है। इसल‌िए शन‌ि के अशुभ प्रभाव में कमी लाने के ल‌िए इस द‌िन आप कुछ आसान से उपाय कर सकते हैं। क्योंक‌ि इस अवसर पर क‌िया गया उपाय व‌िशेष फलदायी माना गया है।shani_1463145952अपने से 19 गुणा लंबा काला धागा लेकर उसकी माला बनाएं और शन‌ि महाराज का ध्यान करते हुए धारण करें।शन‌ि जयंती की शाम में पीपल की जड़ में मीठा जल चढ़ाएं और वहीं बैठकर शन‌ि चालीसा का पाठ करें। शन‌ि स्तोत्र का भी पाठ कर सकते हैं।
shami-tree_1464955983
काले कपड़े में शमी वृक्ष की जड़ को बांधकर अपनी दांयी बाजू पर धारण करें, शन‌ि महाराज आपका बुरा नहीं करेंगे बल्क‌ि उन्नत‌ि में सहायक होंगे।
शन‌ि जयंती के द‌िन शमी के वृक्ष को घर में लगाएं और न‌ियम‌ित उसकी पूजा करें तो घर में वास्तु दोष दूर होगा और शन‌ि की कृपा बनी रहेगी।
त‌िल के तेल का दीपक काली बाती से जलाकर शन‌ि महाराज की आरती करें।
उड़द की दाल की ख‌िचड़ी बनाकर भूखे व्यक्त‌ियों को भोजन कराने से शन‌ि की कृपा प्राप्त होती है।
गाय को काले चले और गुड़ ख‌िलाएं और कुत्ते को तेल लगाकर रोटी।
challa_1464957559challa_1464957559
घोड़े के नाल की अंगूठी धारण करने के ल‌िए भी यह द‌िन बढ़‌िया है। शन‌ि महाराज की मूर्त‌ि से स्पर्श करवाकर अंगूठी धारण करना शुभ रहेगा।

A Big Vision News Network India

About A Big Vision News Network India

Leave a Reply

*