भारत की देखादेखी पाकिस्तान ने भी पकड़ी नोटबंदी की राह, बंद करेगा 5,000 रुपये का नोट

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की सीनेट ने काले धन के प्रवाह को रोकने के लिए ‘एक चरणबद्ध तरीके’ से 5,000 रुपये के नोट का चलन बंद करने की मांग करने वाले एक प्रस्ताव को सोमवार को पारित  कर दिया.

एक महीने पहले भारत में भी 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों का चलन बंद कर दिया गया था. सीनेट सदस्य पाकिस्तान मुस्लिम लीग के नेता सैफुल्ला खान ने प्रस्ताव पेश किया जिसे उपरी सदन में सांसदों ने बहुमत से पारित किया.

तीन से पांच साल तक का मिलेगा समय
डॉन की खबर के अनुसार प्रस्ताव में कहा गया कि 5,000 रुपये के नोट का चलन बंद करने से बैंक खाते के इस्तेमाल को प्रोत्साहन मिलेगा और बिना हिसाब-किताब वाली अर्थव्यवस्था का आकार घटाने में मदद मिलेगी. प्रस्ताव के अनुसार 5,000 के नोट का चलन बंद करने का काम तीन से पांच साल में होना चाहिए ताकि बाजार से नोट हटाए जा सके.

हालांकि कानून मंत्री जाहिद हमीद ने कहा कि नोट का चलन बंद करने से बाजार में संकट पैदा होगा और लोग विदेशी मुद्राओं का इस्तेमाल करने लगेंगे. उन्होंने कहा कि इस समय देश में 3.4 खरब नोटों का इस्तेमाल किया जा रहा है जिसमें से 1.02 खरब 5,000 रुपये के नोट में हैं. यह प्रस्ताव भारत में नोटबंदी से प्रेरित लग रहा है.

वेनेजुएला भी कर चुका है नोटबंदी की घोषणा
वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने 12 दिसंबर देश में सबसे बड़ी राशि यानी 100 बोलिवर के नोट को बंद करने के लिए आपात आदेश जारी किए थे लेकिनविरोध बढ़ने के बाद देश में बड़े नोटों को चलन से हटाने का फैसला दो जनवरी तक टाल दिया है.

A Big Vision News Network India

About A Big Vision News Network India

Leave a Reply

*