INDvsENG: टेस्ट, वनडे सीरीज के बाद अब टीम इंडिया की निगाहें टी-20 सीरीज पर

कानपुर: इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट और वनडे सीरीज जीतने के बाद टीम इंडिया की कोशिश आज से शुरू हो रही टी-20 सीरीज को भी अपने नाम करने की होगी. टी-20 सीरीज का पहला मैच कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में खेला जाएगा. भारत के ऐतिहासिक 500वें टेस्ट मैच की मेजबानी करने वाले इस मैदान पर यह पहला टी-20 मैच है.

वनडे सीरीज में खेलने वाले कई खिलाड़ी टी-20 सीरीज में नहीं हैं. चयनकर्ताओं ने टी-20 के लिए युवा खिलाड़ियों पर जोर दिया है जिनमें सबसे बड़ा नाम विकेटकीपर-बल्लेबाज ऋषभ पंत का माना जा रहा है.

पिछले साल अंडर-19 विश्व कप में शानदार प्रदर्शन कर सभी की नजरों में आए पंत ने घरेलू सत्र में भी बल्ले से अपने जौहर दिखाए हैं और रणजी ट्रॉफी के इसी सत्र में कई रन बनाए.

शिखर धवन चोटिल हैं, ऐसे में लोकेश राहुल के साथ पारी की शुरुआत के लिए पंत को अंतिम एकादश में चुना जा सकता है. हालांकि मंदीप सिंह भी राहुल के साथ सलामी बल्लेबाज की दौड़ में हैं. पंत बाएं हाथ के बल्लेबाज हैं, ऐसे में दाएं-बाएं हाथ के बल्लेबाज की जोड़ी को बनाए रखने के लिए टीम प्रबंधन पंत के साथ जा सकता है.

कोहली का तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी करना तय है. युवराज और धोनी ने वनडे में चौथे और पांचवें नंबर पर अपने अनुभव का बेहतरीन परिचय देते हुए टीम को संभाला था. छठे नंबर पर भारत में टी-20 क्रिकेट का बड़ा नाम सुरेश रैना उतर सकते हैं. रैना लंबे अंतराल के बाद अपने घरेलू मैदान पर खेलते नजर आएंगे.

रविचंद्रन अश्विन और रवींद्र जडेजा को आराम दिया गया है. उनकी जगह जम्मू एवं कश्मीर के ऑफ स्पिनर परवेज रसूल और लेग स्पिनर अमित मिश्रा को टीम में जगह मिली है. तेज गेंदबाजी आक्रमण की जिम्मेदारी अनुभवी आशीष नेहरा के कंधों पर रहेगी. वह भी इस सीरीज से वापसी कर रहे हैं. नेहरा का साथ जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार देंगे.

ऑलराउंडर खिलाड़ी हार्दिक पांड्या टीम में निश्चित ही तीसरे तेज गेंदबाज की भूमिका निभाएंगे. आखिरी वनडे में पांड्या ने अर्धशतकीय पारी भी खेली थी.

वहीं मेहमान टीम के लिए यह सीरीज सम्मान की लड़ाई होगी. आखिरी वनडे में मेजबानों के खिलाफ मिली जीत इंग्लैंड के लिए टॉनिक का काम कर सकती है. उस जीत से निश्चित ही इंग्लिश टीम का आत्मविश्वास बढ़ा होगा.

कप्तान इयान मोर्गन के लिए अच्छी बात यह है कि उनके बल्लेबाजों ने वनडे सीरीज में हमेशा रन बनाए हैं. जेसन रॉय ने तीनों मैचों में बेहतरीन फॉर्म का परिचय दिया. एलेक्स हेल्स के बाहर होने से उन्हें जरूर झटका लगा है लेकिन सैम बिलिंग्स में हेल्स की जगह भरने की काबिलियत है.

जोस बटलर टी-20 में किसी भी टीम के लिए सरदर्द साबित हो सकते हैं. जोए रूट भी अच्छी फॉर्म में हैं और टी-20 में उन्होंने भी अच्छा प्रदर्शन किया है. गेंदबाजी में डेविड विली, लियाम प्लंकेट, टायमल मिल्स और हरफनमौला बेन स्टोक्स से मोर्गन को अच्छे प्रदर्शन की उम्मीद होगी.

टीमें :

भारत : विराट कोहली (कप्तान), महेंद्र सिंह धौनी (विकेटकीपर), युवराज सिंह, सुरेश रैना, लोकेश राहुल, ऋषभ पंत, मंदीप सिंह, मनीष पांडे, हार्दिक पंड्या, युजवेंद्र चहल, भुवनेश्वर कुमार, आशीष नेहरा, जसप्रीत बुमराह, परवेज रसूल और अमित मिश्रा.

इंग्लैंड : इयोन मोर्गन (कप्तान), जोए रूट, जेसन रॉय, जॉनी बेयरस्टो, मोइन अली, सैम बिलिंग्स, जोस बटलर, जैक बॉल, लियाम डॉसन, क्रिस जोर्डन, लियाम प्लंकेट, आदिल रशीद, बेन स्टोक्स, डेविड विली और टाइमल मिल्स.

A Big Vision News Network India

About A Big Vision News Network India

Leave a Reply

*