गुरमीत राम रहीम की सुरक्षा बनी सुनारिया जेल के कैदियों की परेशानी का कारण

नई दिल्ली: डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम के रोहतक की सुनारिया जेल में पहुंचने से वहां के कैदियों की मुश्किलें बढ़ गई हैं. राम रहीम को लेकर जेल में इतनी सतर्कता बरती जा रही है कि पिछले एक सप्ताह से कैदियों को किसी से मिलने नहीं दिया जा रहा. जेल प्रशासन के इस रवैये से खफा बंदियों ने हड़ताल कर दी है.

यह भी पढ़ें : डेरा प्रमुख के बाद अब पुलिस ने साधा राम रहीम के करीबियों पर निशाना

रोहतक जेल के इन हालात का खुलासा पेशी के लिए बाहर आए एक कैदी ने किया. बताया जाता है कि कारौर ग्राम का निवासी अनिल रोहतक की सुनारिया जेल में हत्या के प्रकरण में बंद है. इस मामले की सुनवाई अदालत में चल रही है. दो दिन पहले अनिल को पेशी के लिए कोर्ट में लाया गया. इस दौरान उसने अपने वकील को बताया कि 26 अगस्त को राम रहीम को जेल में लाने पर जेल प्रशासन ने एक बैरक खाली करा दिया. उस बैरक में रह रहे 13 कैदियों को दूसरे बैरक में भेज दिया.

राम रहीम की सुरक्षा के मद्देनजर प्रशासन किसी भी कैदी को उसके परिजन से नहीं मिलने दे रहा है. इस जेल की क्षमता करीब 1300  कैदियों की है जबकि इसमें करीब डेढ़ हजार कैदी बंद हैं. बताया जाता है कि कैदियों को चादर और कंबल नहीं दिए जा रहे हैं. राम रहीम की वजह से कैदी परेशान हैं. इस मामले में कई बार जेल प्रशासन से कहने के बाद भी जब समस्या नहीं सुलझी तो कैदियों ने आंदोलन शुरू कर दिया है.

A Big Vision News Network India

About A Big Vision News Network India

Leave a Reply

*