“9 मंत्रियों की छुट्टी संभव, आखिर क्या हो सकते हैं कारण”

नई दिल्ली: मोदी कैबिनेट में रविवार सुबह होने जा रहे मंत्रिमंडल में फेरबदल के पीछे क्या कारण हैं? यह एक बड़ा सवाल है. केंद्रीय मंत्रियों बंडारू दत्तात्रेय, प्रताप रूडी, उमा भारती, संजीव बालियान और फग्गन सिंह कुलस्ते ने मंत्रिमंडल से अपना इस्तीफा प्रधानमंत्री को भेज दिया है. यूपी बीजेपी के अध्यक्ष बनाए गए महेंद्र नाथ पांडे का भी मंत्रिमंडल से जाना तय है. कुल 9 से 10 मंत्रियों की छुट्टी हो सकती है जिनमें कलराज मिश्र नाम भी शामिल हैं. अटकलें हैं कि हटाए गए मंत्रियों को पार्टी संगठन में जगह दी जा सकती है.

– कैबिनेट में फेरबदल : राजीव प्रताप रूडी बोले, मंत्री पद छोड़ने का फैसला मेरा नहीं है…

जानें क्या हो सकते हैं संभावित कारण…

उमा भारती का स्वास्थ्य?
उमा भारती को स्वास्थ्य कारणों से हटना आधिकारिक कारण बताया गया है. इसके अलावा नमामि गंगे की प्रगति संतोषजनक न होना भी एक कारण है. उन्हें बुंदेलखंड में पार्टी संगठन को मज़बूत करने की ज़िम्मेदारी मिल सकती है

राजीव प्रताप रूडी के काम पर सवाल…
राजीव प्रताप रूडी मंत्रालय का काम संतोषजनक नहीं है. नए मंत्रालय में अधिक उपलब्धि नहीं मिली. पीएम चाहते थे कौशल विकास में बड़ी उपलब्धि हासिल हो. अब उन्हें संगठन में ज़िम्मेदारी मिल सकती है.

कलराज मिश्र के काम पर सवाल?
75 वर्ष से अधिक उम्र के हो गए हैं. मंत्रालय में संतोषजनक प्रदर्शन नहीं है. नोटबंदी के बाद लघु और मंझोले उद्योगों को समस्या हुई थी.

संजीव बालियान की कार्यशैली पर सवाल?
संजीव बालियान की कार्यशैली संतोषजनक नहीं है. मंत्रालय का प्रदर्शन ठीक नहीं रहा. संगठन में बड़ी ज़िम्मेदारी मिल सकती है.

महेंद्र नाथ पांडे को दूसरी जिम्मेदारी
महेंद्र नाथ पांडे को यूपी बीजेपी का अध्यक्ष बनाया गया है. एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत के तहत इन्हें हटाया जा रहा है.

फग्गन सिंह कुलस्ते के लिए दूसरी जिम्मेदारी?
मप्र चुनावों के मद्देनज़र मिल सकती है प्रदेश अध्यक्ष की ज़िम्मेदारी मिल सकती है. यही सबसे बड़ा कारण बताया जा रहा है.
बंडारू दत्तात्रेय पर आरएसएस से जुड़े संगठनों ने सवाल उठाए थे..
श्रम मंत्री बंडारू दत्तात्रेय तेलंगाना में संगठन की ज़िम्मेदारी निभाएंगे. बंडारू दत्तात्रेय श्रम मंत्रालय के फ़ैसलों पर आरएसएस से जुड़े संगठनों ने सवाल उठाए थे. श्रम सुधारों को लेकर लचर प्रदर्शन उनके इस्तीफे का कारण बताया जा रहा है. हालांकि उन्हें तेलंगाना में संगठन को मज़बूत करने का काम दिया जा सकता है.

A Big Vision News Network India

About A Big Vision News Network India

Leave a Reply

*